Kya Teri Zulfen Hai song lyrics

Movie Hum Sub Ustad Hain
Year 1965
Music By Laxmikant-Pyarelal
Singer Kishore Kumar and Asha Bhosle
Lricist Asad Bhopali
Duration 4:23

Not Rated Yet

Ki : Ahaa Kya Teri Zulfe Hai Ahaa Kya Teri Aankhein Hai Ahaa Main Jise Umra Bhar Dhundhaa Kiya Wahi Hai Tu Aa : Ahaa Kya Teri Baatein Hai Ahaa Kya Mulaaqaate Hai Ahaa Dil Jise Bin Mile Chaahaa Kiya Wahi Hai Tu Ki : Ahaa Kya Teri Zulfe Hai Ki : Ruki-Ruki Dabi-Dabi Saansein Uffo Taubaa Aa : Dil Mein Mere Chubhati Huyi Nazrein Uffo Taubaa Ki : Ruki-Ruki Dabi-Dabi Saansein Uffo Taubaa Aa : Ho Honth Tharraaye Nigahein Khud-Ba-Khud Sharmaa Gayi Ki : Kya Teri Zulfe Hai Ahaa Kya Teri Aankhein Hai Ahaa Main Jise Umra Bhar Dhundhaa Kiya Wahi Hai Tu Aa : Ahaa Kya Teri Baatein Hai Aa : Aa Aa Aa : Dhire-Dheere Khulane Laga Raaz-E-Dil Mera Ki : Toone Abhi Chhedaa Hi Kyon Saaz-E-Dil Mera Aa : Dhire-Dheere Khulane Laga Raaz-E-Dil Mera Ki : Haan Jab Tu Hai Saath Sanam Phir Koyi Baat Sanam Maanataa Hai Dil Aa : Kya Teri Baatein Hai Ahaa Kya Mulaaqaate Hai Ahaa Dil Jise Bin Mile Chaahaa Kiya Wahi Hai Tu Ki : Ahaa Kya Teri Zulfe Hai Ki : Kya Ho Agar Baad-E-Sabaa Aanchal Dhalakaa De Aa : Aisa Na Ho Ke Teri Nazar Kahin Shole Bhadakaa De Ki : Kya Ho Agar Aa : Ha Ki : Baad-E-Sabaa Aa : Ha Ki : Aanchal Dhalakaa De Aa : Ho Hosh Udd Jaayege Aage Baat Kahne Ki Nahin Ki : Kya Teri Zulfe Hai Ahaa Kya Teri Aankhein Hai Ahaa Main Jise Umra Bhar Dhundhaa Kiya Wahi Hai Tu Aa : Ahaa Kya Teri Baatein Hai Ahaa Kya Mulaaqaate Hai Ahaa Dil Jise Bin Mile Chaahaa Kiya Wahi Hai Tu Ki : Ahaa Kya Teri Zulfe Hai

Kya Teri Zulfen Hai lyrics in hindi

की अहा क्या तेरी ज़ुल्फ़े है अहा क्या तेरी आँखें है अहा मैं जिसे उम्र भर ढूंढा किया वही है तू आ अहा क्या तेरी बातें है अहा क्या मुलाक़ाते है अहा दिल जिसे बिन मिले चाहा किया वही है तू की अहा क्या तेरी ज़ुल्फ़े है की रुकी रुकी दबी दबी सांसें उफ्फो तौबा आ दिल में मेरे चुभती हुयी नज़रें उफ्फो तौबा की रुकी रुकी दबी दबी सांसें उफ्फो तौबा आ हो होंठ थर्राये निगाहें खुद बा खुद शर्मा गयी की क्या तेरी ज़ुल्फ़े है अहा क्या तेरी आँखें है अहा मैं जिसे उम्र भर ढूंढा किया वही है तू आ अहा क्या तेरी बातें है आ आ आ आ धीरे धीरे खुलने लगा राज़ ए दिल मेरा की तूने अभी छेड़ा ही क्यों साज़ ए दिल मेरा आ धीरे धीरे खुलने लगा राज़ ए दिल मेरा की हाँ जब तू है साथ सनम फिर कोई बात सनम मानता है दिल आ क्या तेरी बातें है अहा क्या मुलाक़ाते है अहा दिल जिसे बिन मिले चाहा किया वही है तू की अहा क्या तेरी ज़ुल्फ़े है की क्या हो अगर बाद ए सबा आँचल ढलका दे आ ऐसा न हो के तेरी नज़र कहीं शोले भड़का दे की क्या हो अगर आ हा की बाद ए सबा आ हा की आँचल ढलका दे आ हो होश उड़द जायेगे आगे बात कहने की नहीं की क्या तेरी ज़ुल्फ़े है अहा क्या तेरी आँखें है अहा मैं जिसे उम्र भर ढूंढा किया वही है तू आ अहा क्या तेरी बातें है अहा क्या मुलाक़ाते है अहा दिल जिसे बिन मिले चाहा किया वही है तू की अहा क्या तेरी ज़ुल्फ़े

More Lyrics of Hum Sub Ustad Hain

Ajnabi Tum Jane Pehchane Se Ajnabi Tum Jane Pehchane Se - Female Bambai Ka Yeh Babu Kya Teri Zulfen Hai Pyar Bantte Chalo Suno Jana Suno Jana Uff Yeh Nikhra Hua Chehra